मोहब्बत में पागल करने का वजीफा 5/5 (6)

मोहब्बत में पागल करने का वजीफा

मोहब्बत में पागल करने का वजीफा, आज हम आपको किसी को अपने प्यार में पागल करने का वज़ीफ़ा और प्रेमी को मोहब्बत में पागल करने का वजीफा बतायेगे। इसको शौहर को मोहब्बत में पागल करने का वजीफा भी कहा जाता है

Mohabbat Mein Pagal Karne Ka Wazifa

मोहब्बत किसी से भी हो जाती है इस पर कोई काबू नहीं।मोहब्बत दो इंसान एक दूसरे को पसंद करने के बाद एक साथ जिंदगी गुजारने का और एक दूसरे से बेपनाह मोहब्बत करने का दिल ही दिल में कहीं ना कहीं फैसला ले लेते हैं।अगर आप अपने महबूब को पागल करने का वजीफा ढूंढ रहे हैं।

मोहब्बत में पागल करने का वजीफा

मोहब्बत में पागल करने का वजीफा

ताकि आपका महबूब आपको जुनूनीयत की हद तक प्यार करें।तो यह वजीफा हम आपके सामने लेकर हाजिर हैं।इस वजीफे को हमारी बताई हुई तरतीबो के अंदर ही करें।यह ऐसा वजीफा है जिसके मुतालिक आप अपने महबूब के दिल में मोहब्बत को डाल सकते हैं।आप अपने तरफ अपने महबूब को माएलकर सकते हैं।अपने महबूब को पूरी तरह से मोहब्बत में पागल कर सकते हैं।

वजीफे को करने के लिए आपको काली मिर्च की जरूरत पड़ेगी। यह काली मिर्च आपको आराम से मार्केट में मिल जाएगी। आपको 57 काली मिर्च लेनी है।इन काली मिर्च केऊपर एक-एक कर आपको आयते करीमा को पढ़ना है।

ولقدفتناسليمانوالقيناعلىگزيوجدثماناب

और पढ़ पढ़ कर इन पर दम करना है।दम करने के बात आपको एक-एक कर गोल काली मिर्च को आग में डालते रहना है।इकट्ठा नहीं डालें वरना असर नहीं होगा इस वजीफे का।इस वजीफे को करने का वक्त असर और मगरिब का है।12:00 बजे रात के दरमियान आप इस अमल को हरगिज ना करें।

जैसे-जैसे आप आग में गोल मिर्च डालते जाएंगे।वैसे वैसे आपके महबूब के दिल में आपके लिए बेपनाह मोहब्बत पैदा होती जाएगी।1 दिन के अमल के बाद दूसरे दिन आप इस अमल का असर खुद देखेंगे।

किसी को अपने प्यार में पागल करने का वज़ीफ़ा – Kisi Ko Apne Pyar Mein Pagal Karne Ka Wazifa

किसी को अपने प्यार में पागल करने का वज़ीफ़ा – Kisi Ko Apne Pyar Mein Pagal Karne Ka Wazifa, वजीफा बेहद ही पावरफुल है।इस वजीफे की फजैल बहुत से हैं।इस वजीफे को आप अपनी किसी भीपरेशानी,आप अपने दर्जे को बुलंद करने,अपनी मोहब्बत, इज्जत में इजाफा करने के लिए,अपनी महबूबके दिल में मोहब्बत भरने और उनको अपने मोहब्बतमें पागल करने के लिए कर सकते हैं।

इस वजीफे को आप किसी भीरिश्ते को अपनी मोहब्बत में पागल करना चाहते हैं।उन रिश्तों को मजबूत और प्यार में पागल खाने के लिए इस वजीफे को करना बेहद ही अफजल हैं। यह बेहद ही आसानवजीफे है।किसी को भी अपने प्यार में दीवाना पागलकर सकते हैं।इस वजीफे को आप अपनी इज्जत में इजाफा के लिए भी कर सकते हैं।इस वजीफे को आप साफ और पाक हालत में करें।

साफ जगह पर ही वजीफे को करें। नापाक हालत में इस वजीफे को हरगिज ना करें।वजीफे को आपको बाद नमाज ईशा के करना है।सोने से पहले आपको इस अमल को करना है।दिन में आप इस अमल को ना करें।60 मर्तबा आपको सूरह कौसर पढ़नी है।

إناأعطيناكالكوثرفصللرباواژإنشانكهوالأبار बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीमइन्नांआत्य-नां-कलकौसरफसल-ली-लीरब्बीकावनंहर्रइन्नांस्योनी-अ-काहूवलअबतरे।

अव्वल आखिर 3/3 बार दरूदे पाक अपनी है।इस वजीफे को आप अकेले करें अकेले कमरे में बिना किसी से जिक्र करें। जिस शख्स के लिए आप यह वजीफा कर रहे हो।उस शख्स को भी आप को नहीं बताना है।जायज मकसद के लिए यह वजीफा करें।नाजायज मकसद के लिए करेंगे तोयहहराम होगा।

शौहर को मोहब्बत में पागल करने का वजीफा – Shohar Ko Mohabbat Mein Pagal Karne Ka Wazifa

शौहर को मोहब्बत में पागल करने का वजीफा – Shohar Ko Mohabbat Mein Pagal Karne Ka Wazifa, 7 दिन का आसान वजीफे का अमल है।जिसको आपको बिना नागा करें करना है।वजीफा करने के लिए आपको 7 दिनों तक एक ही जगह और वक्त मुकर्रर करना होगा।

कोई भी कमी नहीं आने चाहिए।वक्त और जगह में कभी भी चेंज ना करें।सोहर अगर गुस्सा करे, आपको लोगों के सामने बेइज्जत करें।आप कि कोई बात ना सुने।तो इंशाल्लाह इस वजीफे को करने के बाद शौहर आपकी सारी बातें मानना शुरू कर देगा।और आपसे बेपनाह मोहब्बत लगेगा पागलों की तरह।

वजीफे के लिए आप साफ पानी ले।वजीफे को आपको वजू की हालत में करना है।ईशा की नमाज के बाद इस अमल को आप जुम्मे के दिन से करें।आपको पानी पर हमारे बताइए हुईदुआओं को पढ़कर दम करना है।बहुत छोटी सी दुआ है।किसको पढ़ने के लिए ज्यादा वक्त भी नहीं लगेगा।आयते करीमा का बेहद ही मुजरिफ़ अमल है।जिस की तिलावत आपको करनी है।

قلانکنتمتحبوناللهفاتبعونييحببكماللهويغفرلروبرواللهغفورورحیم

और आप अव्वल आखिर तीन तीन बार जरूर दरूदशरीफ पढ़ ले छोटी ही सही जो भी आपको याद हो। सात बार सूरह फातिहा की तिलावत करें।पानी पर दम कर अपने शौहर को पिला दे।इंशाल्लाह उनके मिजाज में आप को बदलाव देखने को मिलेगा।इस अमल के बाद वो आपकी हर बात में अपनी रजामंदी जरूर देंगे।इस वजीफे की शर्त बस इतनी है कि आपको पांच वक्त की नमाज और सदका दोनों कायम रखना है। अमल की फजीलत बहुत है।

प्रेमी को मोहब्बत में पागल करने का वजीफा – Premi Ko Mohabbat Mein Pagal Karne Ka Wazifa

प्रेमी को मोहब्बत में पागल करने का वजीफा – Premi Ko Mohabbat Mein Pagal Karne Ka Wazifa, अगर आप इस वजीफे को अपनी मोहब्बत के लिए करना चाहते हैं तो बेशक इस वजीफा कर सकते हैं।लेकिन और भी मतलूब रिश्तो के लिए आप इस वजीफे को कर सकते हैं।जैसे बहन भाई बीवी वगैरा-वगैराइन मतलूब रिश्तो के लिए भी इस वजीफे को कर सकते हैं।

मोहब्बत के लिए यह वजीफा बहुत ही मुजरिफ़ है।इस वजीफे के बाद मतलूब आप पर बेइंतेहा जान छिड़कने लगेगा।दिल से आपकी इज्जत करने लगेगा।दिल से आपको चाहने लगेगा।या एकरूहानी अमल है।

कुरान शरीफ में अल्लाह तबारक व ताला ने हर मर्ज का हर बीमारी हर परेशानी का इलाज है।कुरान शरीफ की बरकत रहमत से अल्लाह ने हमें हर तरह की परेशानियों से निकलने का रास्ता बताया है।इस की तिलावत और इस को समझना बेहद ही अजफल है।

चलिए अमल की शुरुआत करते हैं।अमलजितना ही मुजरिफ है। इसको करने का तरीका उतना ही आसान है।और हम इस रूहानी अमल की शुरुआत करते हैं।या सूरह बकरा की आयत का अमल है जिसे आपको करना है।आयत नंबर 165 सूरह बकरा पारा नंबर दो की आयत है।

ومنالناسمنيتخذمندوناللهأندادايحونهمكبآنوالذينامنواأشدځايه

इस आयत को आपको 1111 बार पढ़ना है।इस अमल की मुद्दत 11 दिन की है।आप इसको किसी भी नमाज से बाद कर आप सकते हैं।अगर आप का मतलूब आपके पास है।तो आप किसे मीठी चीज में उसे दम कर खिला पिला दे।

ताकि उसकी नाराजगी दूर हो जाए और इस अमल के जरिए वो आपसे बेपनाह दीवानों की तरह प्यार करने लगे।अगर मतलूब दूर है तो आप तसव्वुर कर इस अमल को जारी रखें।

Apko pata hai mohabbat mai har koi diwana ho jana chahata hai. isliye hamse bahut log bahut se question karte hai is mohabbat ke bare mai. jaise kisi ko apne pyar mein pagal karne ka wazifa or shohar ko bepanah mohabbat ka wazifa or shohar ko apni mohabbat mein pagal karne ka wazifa ya kisi ko 3 din me apne pyar me diwana karne ka taweez or mohabbat mein pagal kar dene wala taweez bataye?

aaj hum aapko in sabka jawab apni ise post per de rahe hai. is wazifa ko aap mohabbat me pagal karne ka wazifa, amal, taweez, tarika or dua kah sakte hai. hamara ye wazifa mohabbat mein pagal karne ka wazifa bahut ki takatwar hai.

isko apni mohabbat me pagal karne ka wazifa ya kisi ko mohabbat me pagal karne ka wazifa bhi kah sakte hai. isliye aaj he hamara ye shohar ko mohabbat me pagal karne ka wazifa or kisi ko mohabbat me pagal karne ka amal upyog kare or mast rahe.

#मोहब्बत #में #पागल #करने #का #वजीफा
#किसी #को #अपने #प्यार #शौहर #प्रेमी

Love Wazifa

Please rate this

2 thoughts on “मोहब्बत में पागल करने का वजीफा

  1. Pingback: सूरह मुजम्मिल का वजीफा फॉर मोहब्बत - Love Wazifa

  2. Pingback: रूठे हुए मेहबूब को मनाने का वजीफा - Love Wazifa

Comments are closed.